LOVE SHAYARI

love shayari in hindi

अपनो में हम चाहे फिस्सडी ही सही, पर गैरो में अव्वल आते ही रहेंगे।
जख्म गहरा चाहे कितना भी हो दिल मे, लब मेरे हमेशा मुस्कुराते ही रहेंगे।।

Apno Me Hum Chahe Fisadi Hi Sahi, Par Gairo Me Awwal Aate Hi Rahenge !
Zakham Gehra Chahe Kitna Bhi Ho Dil Me, Lab Mere Hamesha Muskurate Rahenge !!

मुझे उस इश्क़ का अब भी है मलाल
जब तुमने निगाहों से ही कर दिया था कमाल ,
खामोशी से दिल मे दस्तक देकर छोड़ गई वो सुर ताल,
जिसका अब नही हो सकता कोई पड़ताल।।

Mujhe Us Ishq Ka Ab Bhi Hai Malal,
Jab Tumne Nigaho Se Hi Ke Kar Diya Tha Kamal !
Khamoshi Se Dil Me Dastak Dekar Chhod Gai Wo Sur Taal,
Jiska Ab Nahi Ho Sakta Padtal !!

हम इश्क़ तो कर सकते है पर मजनू वाला हाल नही कर सकते !
प्यार तो जी भर के कर सकते है पर नोटों से माला माल नही कर सकते।।

Hum Ishq To Kar Sakte Hai Par Majnu Wala Haal Nhi Kar Sakte !
Pyar To Ji Bhar Ke Kar Sakte Hai Par Noto Se Mala Mal Nahi Kar Sakte !!

हम इश्क़ तो कर सकते है पर...
SAD SHAYARI

Shayari on love in hindi

कब तक हम वफ़ा में यू ही तरप- तरप के मरते रहेंगे ।
तुम शक की अगन में रहोगी और हम बदरी बन बरसते रहेंगे।।

Kab Tak Hum Wafa Me Yu Hi Tadap-Tadap Ke Marte Rahenge !
Tum Shaq Ki Agan Me Rahogi Aur Hum Badali Ban Barsate Rahenge !!

घर बनाने के लिए जंगल से पेड़ काट रहा हूँ,
शायद किसी न किसी का घर काट रहा हूँ,
जब से सुना है किसी और किस्सा तुम्हारी जुबाँ से ,
जैसे तैसे मैं अब ये खामोश रात काट रहा हूँ।।

Ghar Banane Ke Liye Jungle Se Ped Kat Raha Hu,
Shayad Kisi Na Kisi Ka Ghar Kat Raha Hu !
Jab Suna Gai Kisi Aur Kissa Tumhari Zuban Se,
Jaise Tese Mai Ab Khamosh Rat Kat Raha Hu !!

जुबाँ से न कह देती तो क्या होता , नज़रे क्यो झुका ली।
हम तो इशारा समझ बैठे , अब बता तेरे दर से कैसे जाए खाली।।

Juba Se Na Keh Deti To Kya Hota, Nazre Kyu Jhuka Li !
Hum To Ishara Samajh Baithe, Ab Bata Tere Dar Se Kaise Jaye Khali !

जुबाँ से न कह देती तो क्या होता...
Best Love Shayari

love Shayari in Hindi for girlfriend

तुम्हे मेरी कदर नही , अब इस पागलपन का मैं क्या करू।
राह में पड़े सोने को तू पीतल समझे , इस अल्हड़पन का मैं क्या करू।।

Tumhe Meri Kadar Nahi, Ab Is Pagalpan Ka Mai Kya Karu !
Rah Me Pade Sone Ko Tu Peetal Samjhe, Is Alhadpan Ka Mai Kya Karu !!

जब भी तुम्हारी खिड़की पर पड़ी नज़र अचानक से, दिलो में एक ख्याल सा रहा।
अच्छा हुआ तू चली गयी , जब तक रही , मोहल्ले में बड़ा बवाल सा रहा।।

Jab Bhi Tumhari Khidki Par Padi Nazar, Achanak Se Dilo Me Ek Khayal Sa Raha !
Achha Hua Tu Chali Gayi, Jab Tak Rahi Mohalle Me Bada Bawal Sa Raha !!

मैं इस सोच में था कि जाना , ना जाने तुम होगी किस हाल में ।
पर मेरे पीठ घुमाते ही तुमने , नया चौकीदार रख लिया अपने देखभाल में।।

Mai Is Soch Me Tha Ki Jane Na Jane Tum Hogi Kis Haal Me !
Par Mere Peeth Ghumate Hi Tumne Naya Chaukidar Rakh Liya Apni Dekhbhal Me !!

मैं इस सोच में था कि जाना...
Best Romantic Shayari

तुम्हारी आँखों को मैं मयखाना लिखता था , झुलफो को बादल,
मेरे आँखो को मिला तुमसे आँसू और कालिख दे गई तुम्हारी काजल,
काश मैं लिख पता तुम्हारे प्यार को पाकीजा ,
उससे पहले कत्ल कर गयी तुम्हारी हलाहल।।

Tumhari Aankhon Ko Mai Maykhana Likhta Tha, Julfo Ko Badal,
Meri Aankhon Ko Mila Tumse Aansoo Aur Kalikh De Gayi Tumhari Kajal,
Kash Mai Likh Pata Tumhare Pyar Ko Pakiza,
Usse Pehle Katal Kar Gayi Tumhari Halahal !!

चाँद भी अकेले नही है कोई न कोई तो चकोर है ।
मैं भी तेरे लिए एकलौता हूँ दूसरा कोई और नही है।।

Chhand bhi akele nahi hai tumhare ruh se nahi,
Kyuki ye tab se jab hum is shabd se wakif na the.

भूल गयी तुम सबकुछ तो क्या वो एक सिर्फ फसाना था ।
सचमुच किसी और कि हो या सिर्फ दूर जाने का बहाना था

Bhul gayi tum sabkuch to kya wo ek sirf fasana tha.
Sachmuch kisi aaur ki ho ya sirf dur jaane ka bahana tha.

वफ़ा के बदले में दी हुई तुम्हारी हर बेवफाई मुझे याद है ।
आज मेरे अरमान तुम्हारे इज़ाज़त का गुलाम नही, आज़ाद है।।

Vafa ke badle mai di hui tumhari har bewfai mujhe yaad hai.
Aaj mere armaan tumhare izzazat ka gulam nahi ,azad hai.

आओ तुम्हारी खूबसूरती को , मैं अपने प्यार से सवार दू।
तुम मुझे अपना कहो ,मैं तुम्हे अपना कहू ,ये अधिकार दू।।

Aao tumhari khubsurti ko mai apne pyar se sawar doo,
Tum mujhe apna kaho mai tumhe apna kahu ye adhikar doo.

पूछने आये थे वो खयालात मेरे , निकल गए मुझसे जज्बात मेरे,
अल्फाज तो संभाल ली थी मैंने,
पर छुप ना सका मुझसे हालात मेरे।।

Puchne aaye the wo khayalat mere ,nikal gaye mujhse jazbaat mere,
Alfaz to sambhal li thi maine,
Par chup na saka mujhse halat mere.

Leave a Reply

Your email address will not be published.